भगवान में विश्वास Beautiful Hindi Story

भगवान में विश्वास

भगवान में विश्वास एक राजा की पुत्री के मन में वैराग्य की भावनाएं थीं जब राजकुमारी विवाह योग्य हुई तो राजा को उसके विवाह के लिए योग्य वर नहीं मिल पा रहा था। राजा ने पुत्री की भावनाओं को समझते हुए बहुत सोच-विचार करके उसका विवाह एक गरीब संन्यासी से करवा दिया राजा ने सोचा … Read more भगवान में विश्वास Beautiful Hindi Story

दादा बोलते थे मुसीबत तब आती है जब तुम बुलाते हो

Guru vaani Dada bhagwan

तुमने अपनी इच्छा से जाल बनाया ओर उसमें फंस गए..जब बोलोगे में मुआ खुद खुदा हुआ गीता भगवान कहते थे कि धर में ऐसे रहो कि पड़ोसी भी पुछे इस धर में कोई रहता भी है या नहीं..भागने से छुटकारा नहीं मिलेगा जहाँ बैठे हो वहाँ शरीर की आवश्कताएँ तो पुरी हो ही रही है.. … Read more दादा बोलते थे मुसीबत तब आती है जब तुम बुलाते हो

अनुकरणीय शिक्षण का संदेश

किसी को पता नहीं चला कि घड़ी मैंने चुराई थी

एक बार एक व्यक्ति की उसके बचपन के टीचर से मुलाकात होती है । वह उनके चरण स्पर्श कर अपना परिचय देता है। वे बड़े प्यार से पुछती है, ‘अरे वाह, आप मेरे विद्यार्थी रहे है, अभी क्या करते हो, क्या बन गए हो ?’ ‘ मैं भी एक टीचर बन गया हूं ‘ वह … Read more अनुकरणीय शिक्षण का संदेश

बेटियों पर तो बहुत कविताएं सुनी है,लेकिन एक सास द्वारा रचित अपनी बहू पर यह कविता बहुत ही प्यारी व निराली हैं

meri beti

“मेरी बेटी” एक बेटी मेरे घर में भी आई है, सिर के पीछे उछाले गये चावलों को, माँ के आँचल में छोड़कर, पाँ के अँगूठे से चावल का कलश लुढ़का कर, महावर रचे पैरों से,महालक्ष्मी का रूप लिये, बहू का नाम धरा लाई है. एक बेटी मेरे घर में भी आई है. माँ ने सजा … Read more बेटियों पर तो बहुत कविताएं सुनी है,लेकिन एक सास द्वारा रचित अपनी बहू पर यह कविता बहुत ही प्यारी व निराली हैं

पाप-कर्म का फल किसके खाते में जायेगा

पाप-कर्म का फल किसके खाते में जायेगा

एक राजा ब्राह्मणों को लंगर में महल के आँगन में भोजन करा रहा था । राजा का रसोईया खुले आँगन में भोजन पका रहा था । उसी समय एक चील अपने पंजे में एक जिंदा साँप को लेकर राजा के महल के उपर से गुजरी । तब पँजों में दबे साँप ने अपनी आत्म-रक्षा में … Read more पाप-कर्म का फल किसके खाते में जायेगा