Guru vaani 1 may 2019

Guru vaani 1 May 2019

गुरु जी ने बताया कि,,,,,, 🎋जो हमारे लिए उपयोगी होता है वो हमें बिना पैसो के बिना मोल के मिल ही जायेगा,,,,विस्वास रखें,,,,,,,,,,।


🎋सुख दुख कुछ हित ही नही,,,,बस हमारे मन के विचारों का खेल है,,,जो हमारे मन के हिसाब से होता है वो सुख,जो हमारे मन के हिसाब से नही होता उसमे दुख मानते है,,,,,,,,।

आंखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं?


🎋स्थिर मन ब्रह्म में टिका होता है,अस्थिर मन संसार मे टिका होता है,,,,,,,,।


🎋माया की गिफ्ट को कभी भी लिफ्ट मत दो,,प्रभु में लीन रहें,,,,,,,।


🎋एक सन्त के पास एक औरत गई,,,अपने बेटे को लेकर ,की मेरा बेटा गुड़ खाता है,,,,,तो सन्त ने कहा ,कल आना,फिर वो गई,फिर बोला कल आना,,5 दिन तक ऐसा हुआ,6 ठे दिन सन्त ने बच्चे से कहा कि बेटा गुड़ मत खाना गलत बात है,,,,माँ बोली ये बात आप पहले दिन ही कह सकते थे,तो

सन्त बोले,मैं भी गुड़ खाता था,तभी पहले मैंने खुदको सुधारा, फिर बच्चे को कहा,,ऐसे ही किसी भी बात में जब तक हम अच्छे नही होंगे, दुसरो को नही बना सकते,,,,,,,।

शहद के क्या फायदे हैं?


🎋जब पता चलेगा ज्ञान जीवन मे लग गया मतलब अज्ञान मिट ही गया,,,,,,,,,।


🎋जो दिखने में गलत होता है,उसमे जरूर प्रभु की रजा होती है,,,,,,,,।


🎋प्रभु की सेवा मतलब गुरु की आज्ञा में रहना,,,,,,,,,।


🎋शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,,।

More Guru vaani :

Guru ji Bhajan

494 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap