Guru vaani 10 Oct 2019

Guru vaani 10 Oct 2019

गुरु जी ने बताया कि,,,,,,,,,,

🌹भगवान जब मनुस्य अवतार में आएं,तो उन्होंने कितना संघर्ष किया,हमे भी अपना जीवन जैसा प्रभु ने दिया

सहज स्वीकार करना है,,,,,,,,,,,।

🌹सच्चा और अच्छा जीवन जीने के लिए ना कार,ना हार,ना उपहार की जरूरत होती है ,,बस सच्चा और अच्छा

जीवन जीने के लिए उच्च विचार चाहिए,,,,,,,,,।

🌹बाकी धार्मिक कार्यो में कर्म काण्ड में जाति पाती का सवाल उठता है,यहां गुरु को सिर्फ हमारा शुद्ध

अंतःकरण चाहिए,,,,,,,,,।

🌹जैसे सुनार के पास सोने का चूहा आये,या सोने के गणेश जी आएं,वो दोनों में सोने का तत्व देखता

है,,,,,,ऐसे ही गुरु कहते है कि हमारी दृष्टि भी प्रभु की शक्ति पर,आत्म शक्ति पर होनी चाहिए,,,,,,,,।

🌹ज्ञान से पहले हम सिर्फ अपने और अपने वालो के लिए सोचते थे,गुरु ने हमे विशालता से जोड़

दिया,,,,,,,,,।

🌹जैसे सुबह होते ही उजाला हो जाता है,चिड़िया चहकने लग जाती है,चारो और सारे काम शुरू हो जाते है,ऐसे

ही जीवन मे ज्ञान का उजाला हो जाता है तो हमारा जीवन बन ना शुरू हो जाता है,,,,,,,,,।

🌹जब तक स्वयंम को नही जानेंगे तब तक दुख का अंत नही हो सकता,,,,,,,,,,।

🌹शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,,,,।

Guru vaani 10 Oct 2019

Guru ji ne btaya ki

🌹Bhagwan jab manusya avtaar me aayen,tto unhone bhi kitna sangarsh kiya,,,,,hume bhi apna jeevan jaisa prabhu ne diya sahaj sweekar karna hai,

🌹Sachha aur achha jeevan jeene ke liye Na Car, Na Haar, Na Uphaar ki jarurat hoti hai,,,,,,bas sachha aur achha jeevan jeene ke liye Uchh Vichar chahiye

🌹Baki dharmik karyo me karm kando me jati ,paati ka sawal oothta hai,,,yahan Guru ko sirf hamara shuddh antahkaran chahiye,,,,,,,,,

🌹Jaise Sunar ke paas Sone ka chuha aaye,ya Sone ke Ganesh ji aayen,wo dono me sone ka tatv dekhta hai,,,,,aise hi Guru kahte hai ki hamari dristi bhi prabhu ki shakti par,aatm shakti par honi chahiye,,,,,,,,,,

🌹Gyaan se pahle hum sirf apne aur apne walo ke liye sochte the,Guru ne hume vishalta se jod diya

🌹Jaise subah hote hi ujala ho jata hai,chidiya chahkne lag jati hai,charo aur saare kaam shuru ho jate hai,aise hi Jeevan me Gyaan ka ujala ho jata hai tto hamara jeevan ban na shuru ho jata hai

🌹Jab tak swayam ko nahi janenge tab tak dukh ka ant nahi ho sakta

🌹Shukrane Satguru ji ke Hari om

262 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap