Guru vaani 15 April 2019

Guru vaani 15 April 2019

💜Hariom Guruvani April 15*2019 🍎Monday 💜


💗 हमको घर में पूरी सेवा करके तभी सत्संग जाना चाहिए ❤ पहले विरोध होता है, फिर उसके

बाद धीरे धीरे सहयोग मिलने लग जाएगा और उसके बाद आनंद पूरा मिलेगा लेकिन इसके लिए

हमको धीरज से कार्य करना चाहिए और शांत भाव से कार्य पूरा करेंगे तो घर में हरेक बात मान

लेगा. 💜दादा भगवान कहते हैं कि 🌹दुनिया बदले ना बदले, बदल जाओ तुम, तभी मिलेगा परम आनंद 🌹

More – Hindi stories and Guru vani


🍭हर काम गुरु के सानिध्य में ही सही हो सकता है उसके अलावा कोई कार्य पूरा नहीं हो पाएगा

. जगत में दूसरा देखना ही नहीं है, सब कुछ है ही भगवान. जब हम दूसरा देखेंगे तो प्यार नहीं कर

सकते हैं. अद्वैत का मतलब है कि आत्म दृष्टि से एक होना चाहिए ना कि जमादार को भी एकसाथ

बिठाना है, जो जैसा कार्य करता है उसी तरह से उससे व्यवहार करना चाहिए. सावधानी बराबर

रखनी चाहिए और होशियार भी रहना चाहिए, हरेक घरवालों को प्यार से भाव से कार्य करना

चाहिए. अंदर से सबसे प्यार करना चाहिए. शरीर एक ही है लेकिन हर अंग का कार्य अलग अलग होता है और सब एक दूसरे से बराबर प्यार देते हैं.


🌷 हमारा भी सबसे एक जैसा ही प्रेम होना चाहिए, घर में कोई ना कोई प्राणी हमसे उल्टा चलता

है तभी तो हमको अपनी स्थिति का पता चलेगा कि हम कहाँ पर खड़े हैं. बदलना हमको ही है और

कोई नहीं बदलेगा, प्रकृति का नियम है कि हमको सबसे प्यार करना होगा तभी औरों से भी ज्यादा

प्यार मिलेगा. जैसा हम करेंगे वैसा ही हमको पलट कर फल मिलेगा. अगर हम अपने हाथ से सब

सेवा लेते हैं और फायदा पूरे शरीर को होता है। लेकिन सबके सहयोग से हमारा शरीर चल पाता है

, कोई भी अंग साथ नहीं देगा तो पूरे शरीर पर ही असर पड़ेगा. कोई भी अंग यदि अहंकार के

कारण कार्य करना बंद कर देगा तो शरीर भी खराब हो जाएगा. सबके सहयोग से ही कुटुम्ब

banta है बड़े बुजुर्ग के कारण घर की पूरी देखभाल होती रहती है. 💞 कोई बुरा नहीं है भले मन के वास्ते

Read –मुकेश अंबानी सुबह किस समय उठते हैं?

🍏जब हम सबके भले के लिए कार्य करते हैं तो हमारा भी शरीर भी साथ देगा और सबसे ज्यादा प्यार मिलेगा.
🌷 हमारा प्रेम सबसे खरबूजा की तरह होना चाहिए. जो कि बाहर से एक साथ होता है और संतरे

की तरह नहीं होना चाहिए कि भले ही बाहर से एक दिखता है लेकिन अंदर से अलग अलग होता है

और प्यार बाँट देते हैं.


यदि कोई व्यक्ति हमसे गलत तरीके से पेश आता है तो उससे हमको सही तरह से बात करना

चाहिए, क्योंकि उसको सज़ा देने की शक्ति भगवान के पास है 🌷 हमको उन्हें गलत कहने का

कोई अधिकार नहीं है. इसलिए हमको भी किसी व्यक्ति को सुधारने की कोशिश नहीं करना चाहिए

और शांत भाव से व्यवहार करना चाहिए तभी हमको दुनिया संत का darza देगी.

क्योंकि agyani व्यक्ति कोई भी काम बिना सोचे समझे कर देता है तो वो कार्य बिगड़ जाता है और फिर बाद में

पछतावा करता है. और ग्यानी व्यक्ति सोच समझ कर ही कार्य करते हैं और सबसे प्यार करते हैं और प्यार पाते हैं.


🌷 जीवन में कभी भी किसी की चापलूसी नहीं करना चाहिए नहीं तो वही व्यक्ति और गलत कार्य

करने लगेगा, इसलिए जो भी अच्छा कार्य करता है उसकी बड़ाई भी करना चाहिए और शांत भाव से प्यार करना चाहिए. कभी गलत कार्य करने वाले से कभी dosti नहीं करना चाहिए नहीं तो हमारा

नुकसान हो जाएगा. इसलिए हमेशा सत्संग के प्रेमी के साथ ही रहना चाहिए तो आपकी भी भलायी होगी 🌷


🎤🎤🎼BHAJAN 🎤🎼

How to invest money in your 20s

1 thought on “Guru vaani 15 April 2019”

Comments are closed.

470 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap
%d bloggers like this: