guru-vaani-17-march

Guru vaani 17 March 2019

मम्मी जी सदा हम सबके साथ है,,नमन🌹
🌹*जहा तहां है ही भगवान….भगवान देखो तो जीवन मे शांति आ जायेगी।
*परमात्मा एक है,दिखने में अलग अलग आता है,क्यों कि हमारी देह दृष्टि पक्की हो गयी है।
🌹दादा जी कहते थे,मैं तो देखता ही भगवान हु….पर तुम पहले देह देख लेते हो,फिर भगवान देखते हो।
🌹एक ही है अनेक में,,पर तुम्हारा अभ्यास कच्चा है।
जमादार आता है,तो वो भी भगवान है…..जहा तहा एक ही निराकार है,तुम उसको जानो।
हम लाये है ब्रह्माकार वृत्ति गुरु द्वार से,इस वृत्ति को रखना मेरे मनुआ संभाल के।
🌹आज से बेटे में भी भगवान देखो,तो तुम्हारे अंदर ये चाह खत्म हो जायेगी की बेटा झुके।
*कोई बुरा नही है भले मैन के वास्ते।
*चाह चमारी च्युरी,अति नीचन ते नीच…….तू तो पूर्ण ब्रह्म है,यदि चाह न होती बीच।
🌹दादा जी कहते थे,सबसे चाह निकाल दो।
एक गिलास पानी की भी चाह नही रखो,खुद उठा कर पी लो,अपने पास भर कर रखो।
🌹इज्जत मान सम्मान किसी बात की चाहना मत करो।
*बेटे से ,बहूं से कुछ मांगोगे,तो उसके गुलाम बन जाओगे।
🌹दादा जी कहते थे,मैने तुमको शहंशाह बनाया,तुम नीचे क्यों आ जाते हो आत्मा की कुर्सी से।
एक बाल बराबर भी चाहना आएगी,तो भगवान से दूर हो जाओगे।
🌹है खोट तेरे मन में ,तो भगवान से है दूर,,,ये खोट इच्छाओं चहनाओं की है,,ये चहनाएँ तुम्हे भिखारी बनाती है।
*क्यों मांगते हो??? जितना पहले से मिला है,वही खत्म नही कर पाओगे,,इसलिए शहंशाह बन कर रहो।))
जय गुरुदेव,शत शत नमन🌹🌹🌹🌹

🎍सत्संग में जो बातें जो ज्ञान सुनते है,,,उनको घर मे आकर अपने जीवन मे लगाओ,,,,,,,।
🎍सोने के गहने ,,हीरे मोती कितना संभालकर ,छुपाकर रखते हो,,,,,ऐसे ही गुरु ज्ञान गुरु वचनों को संभालकर रखे,,,,,,,,,


🎍गुरु इतना स्नेह करते है इतना सम्मान करते है,,,,,फिर भी संसार वालो से स्नेह की सम्मान की आशा क्यों रखते हो?,प्रभु का स्नेह काफी नही जीने के लिए,,,,?,,,


🎍कोई काम अगर 3 बजे तक खत्म होना हो और हम सौचे 12 तक हो जाये,,,ये कैसे संभव हो सकता है,,,ऐसे ही हम सौचे 10 साल के बच्चे को दाढ़ी मूछ आ जाए,,,ये कैसे संभव हो सकता है,,मतलब हर कार्य अपने समय से होता है,,,धीरज रखें,,,,,,


🎍मछली के बड़े बड़े,,कांटे निकाल सकते है,,,छोटे,, छोटे कांटे चबाकर निगल सकते है,,,,,ऐसे ही गुरु जी कहते है कि हमारी बड़ी,,बड़ी,,समस्या प्रभु सुलझा देते है ,,,छोटी ,,छोटी,,बाते नजर अंदाज करते चलो,,,,,,,।


🎍अगर कोई सेवा का मौका दे रहा है तो उसका धन्यवाद करो,,,,सोचो हमसे कोई सेवा न ले तो कितना दुख हो,,,,,,।


🎍बीमारी आती है ,,तो कहते है कि ठीक हो जाऊंगा तो सत्संग जाऊंगा ,,हरि भजन करूँगा,,,,,,लेकिन ठीक होने के बाद माया में फस जाते है,,,,,,,।


🎍जब भगवान कुछ देते है तो खुशी से ले लेते है,,,जब कुछ वापस लेते है तो वो भी खुशी से वापस करो न,,,,,दुखी क्यों होते हो,,?,,,,,
🎍शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,।

Bhajan

play_circle_filled
pause_circle_filled
Aata Hai ish jahan mai
save_alt
volume_down
volume_up
volume_off

Satsang me jo baten jo gyaan sunte hai unko ghar me aakar apne jeevan me lagao,,,,,,,


🎍Sone ke gahne ,,,Heere moti kitna sambhal kar chupakar rakhte ho,,,,,Aise hi Guru gyaan Guru wachno ki bhi sambhal karen,,,,,,,,,


🎍Guru itna snehh karte hai,,,,itna samman karte hai,,,,,phir bhi sansaar walo se snehh aur samman ki aasha kyu rakhte ho?,,,Prabhu ka snehh kafi nahi jeene ke liye?,,,,


🎍Koi kaam agar 3 baje tak complete hona ho aur,,,,hum soche wo kaam 12 baje ho jaye ye kaise sambhav ho sakta hai,,,,,aisi hi hum soche 10 saal ke bachhe ko dadhi mooch aa jaye ye kaise sambhav ho sakta hai,,,,,matlab har karya apne samay se hota hai ,,,dhiraj rakhen,,,,,,,


🎍Machli ke bade,,,bade,,,kante nikal sakte hai,,,chhote,,,chhote kante chaba kar nighal sakte hai,,,,,aise hi Guru ji kahte hai ki hamari badi badi samasya prabhu solve kar dete hai ,, chhoti ,,chhoti baten najar andaz karte chalo,,,,,,,,,


🎍Agar koi seva ka mauka de raha hai tto uska dhanyawad karo,,,socho humse koi seva na le tto kitna dukh ho,,,,,,,,,,,


🎍Bimari aati hai,,,, tto kahte hai ki thik ho jaunga tto satsang jaunga,,,hari bhajan karunga ,,,lekin thik hone ke baad maya me fas jate hai,,,,,,,,
🎍Jab bahgwan kuch dete hai tto khushi se le lete hai,,,jab kuch wapas lete hai tto woh bhi khushi se wapas karo na,,,,dukhi kyu hote ho?,,,,,


🎍Shukrane satguru ji ke Hari om……

1 thought on “Guru vaani 17 March 2019”

Comments are closed.

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap
%d bloggers like this: