divine guru vaani 17 sept 2019

Guru vaani 17 Sept 2019

💘🌷🌹GURUJI ki kripa se sub को जीवन का आनंद मिल रहा है.

Nirakar को पता है कि हमारे बच्चों को क्या चाहिए और

वो उसी हिसाब से सबकी खुशी का intezam kar देता है.

इसलिए हमको गुरु ke एहसान मानना चाहिए.

जब तक हम अपने स्वभाव को नहीं बदल देंगे तो सामने वाले का भी भाव अच्छा हो जाएगा.

मन की शांति गायब हो जाएगी जब हमारे अंदर माया की हलचल होगी इसलिए अपने अंदर शांति pragat करना चाहिए.

हमारे ही परिवार ke लोग कर्म प्राणी है और यदि ve लोग परेशान करते हैं

तो गुरु ke ग्यान की torch लेकर chaloge तो कभी कोई torcher नहीं kar पाएगा.

एक छोटी सी इच्छा हमारे मन को अशांत kar देती है.

इसलिए जो कोई हमको परेशान करता है उसका इलाज़ खुद ही kar देता है

गुरु वाणी से उसका इलाज़ dhoondh lo.

क्योकि गुरु हमको तो रास्ता बता देगा लेकिन चलना और प्रयास तो हमको खुद ही करना चाहिए.

💝🌹 Lahron की हलचल से हमको खुद ही sambhalna पड़ेगा,

क्योकि lahren तो आती ही रहेंगी और उसी ke बीच mein हमको नहाने का प्रयास करना पड़ेगा तभी मन को शांति मिलेगी.

🌷जिस दिल mein परमात्मा रहता है उसमे कोई भी विकार या अहंकार नहीं टिके ga.


🌹जब हम परीक्षा नहीं देंगे तो हमको नई class कैसे मिलेगी इसीलिए नित्य प्रतिदिन जीवन mein हर समय परीक्षाएं तो आती ही रहेंगी और unme सफल होना ही हमारा प्रयास होना चाहिए.

💘हमको pul banana hai सबके साथ प्यार का व्यवहार रखना चाहिए.


हमलोग प्रकृति से पांच समय भोजन लेते हैं और कभी कुछ देते नहीं है इसलिए हमको प्रकृति ke liye भी कुछ सेवा जरूर dena chahiye.

🌷तुम लोग सत्संग mein जो भी aa gaye hain उनके ऊपर बहुत जिम्मेदारी aa गई है

इसलिए जैसा तुम कोई भी कार्य करेंगे वैसा ही सब लोग देख kar nakal करेंगे तो उसकी सभी की जिम्मेदारी हमारी ही होगी.

💘जैसे ही हमारा anthkaran shuddh और साफ होगा तब हमको हर व्यक्ति सही दिखेगा.

इसी तरह हमारा संग जैसा होगा वैसा ही रँग chadhega.

इस लिए हमेशा अच्छा संग करना चाहिए, तभी हमारा उद्धार होगा और जीवन safal होगा.

💘 हमको देह अध्यास से अलग होना है और सबके भले ke liye हर समय तैयार रहना चाहिए तभी हम सच्चे Satsangi बन पाएंगे.

किसी को भी दुख से दूर करने का प्रयास करना चाहिए. 🌹🌹🌷🌷🌷💘

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap