Guru vaani 23 Sept 2019

Guru vaani 23 Sept 2019

गुरु जी ने बताया

🌹माया के काम से घर के काम से फ्री होते हो कितना सुकून पाते हो,

ऐसे ही गुरु जी कहते है कि क्या इच्छाओ से फ्री हुए,,,,,,सोचो कितना सुकून मिलेगा इच्छाओं से फ्री होकर,,,,,,,,,,।

🌹कोई परेशान करता है तो क्रोध में कह देते है कि भुगतेगा ,

गुरु कहते है ऐसा मत बोलो उसको भुगत ता हुआ देखने के लिए हमे उसके साथ रहना पड़ेगा,आवागमन में आना पड़ेगा,माफ करके भूल जाओ,,,,,,,,,।

🌹जीवन छोटा भले हो लेकिन खूबसूरत सबकी भलाई के लिए होना चाहिए,,, जैसे गुलाब का जीवन,,,,,,,,,,।

🌹मन कभी मरता नही बस गुरु के वचनों से मोड़ना है,,,,,,,,।

🌹हाथी नदी में नहाकर फिर मिट्टी में लौटने लगा,

ऐसे ही गुरु जी कहते है कि हम भी गुरु ज्ञान सुनते है फिर माया की इधर उधर की बातों में कर्म बनाने लगते है,,,,,,,,,,।

🌹अगर सत्संग में जाने के बाद कोई शब्द सुना रहा है हमारे साथ गलत चल रहा है ,

समझो हम फीस दे रहे है,खुशी से दी फीस,,,,,,,,,,।

🌹नाव पानी मे रहें अच्छी बात ,पानी नाव में ना आ जाएं ऐसे ही हम संसार मे रहें संसार हम में ना आ जाएं,,,,,,,,,,।

🌹शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,,,,।

Guru vaani 23 Sept 2019

Guru ji ne btaya ki,,,,,,,,,,

🌹Maya ke kaam se ghar ke kaam se ,

free hote ho kitna sukun pate ho,

aise hi Guru ji kahte hai ki kya ichhao se free huye,,,,,socho kitna sukun milega ichhao se free hokar,,,,,,,,,,

🌹Koi pareshan karta hai tto krodh me kah dete hai ki bhugtega,

Guru kahte hai aisa mat bolo usko bhugat ta hua dekhne ke liye hume uske sath rahna padega,,,

avagaman me aana padega,maaf karke bhul jao,,,,,,,,,,,

🌹Jeevan chhota bhale ho lekin khubsurat aur sabki bhalai ke liye hona chahiye,,,,,,jaise Gulaab ka jeevan,,,,,,,,,

🌹Mann kabhi marta nahi,,,,,bas Guru ke wachno se modna hai,,,,,,,,,,

🌹Hathi nadi me nahakar saaf hua,

phir mitti me lautne laga,,aise hi Guru ji kahte hai ki hum bhi Guru gyaan sunte hai phir maya ki ,

idhar udhar ki baton me karm banane lag jate hai,,,,,,,,,,

🌹Agar satsang me jane ke baad koi shabd suna raha hai hamare sath galat chal raha hai,

samjho hum fees de rahe hai,khushi se do fees,,,,,,,,,

🌹Naav paani me rahe achhi baat,paani Naav me na aa jayen,,,

aise hi hum sansaar me rahen sansaar hum me na aa jayen,,,,,,,,,,,,

🌹Shukrane Satguru ji ke Hari om,,,,,,,,,,

169 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap