guru vaani 25 march

Guru vaani 25 March 2019

🌹किसी से सुख प्राप्त करना चाहते हैं तो उसे भी सुख देना चाहिए.

किसी के अंदर विकार देखेंगे तो मक्खी बन जाएंगे. जो भी हमको किसी से चाहिए तो वह सबको देते चलो तो हमको भी वही अच्छाई मिलेगी.

पूरी दुनिया में कभी किसी से गलत तरीके से नहीं बोलना चाहिए नहीं तो वही हमको भी पलट कर मिलेगा. संचित करम, प्रारब्ध करम और क्रियामन करम तीन तरह के करम होते हैं.

जब तक हमारे पूरे कष्ट ख़त्म नहीं होंगे तब तक हमको मुक्ति नहीं मिलेगी और इसी जन्म में छुटकारा मिल जाएगा , इसलिए कभी दुखों से घबराना नहीं चाहिए.

इस लिए सत्संग को कभी नहीं भूलना चाहिए. इसलिए सत्संग में जो भी अच्छा संकल्प करेंगे वो जरूर पूरा होगा.


🌷 धरती पर कुल सात सुख है.
Acha स्वास्थ्य, समुचित धन, aagya kari पुत्र, sunder पत्नी, समाज में इज्जत, अच्छी नींद, संतोष धन 💘🍏


Guruji ने हमेशा सात्विक भाव रखना चाहिए. जो भी मन में शांति यहाँ आकर मिलती है और शरीर भी स्वस्थ रहता है. मंजिल तक जाने के लिए सीधे ही रास्ता चलना चाहिए. सत्संग की चर्चा बहुत होती है. उसका फायदा उठाने के लिए अपना योगदान देना चाहिए.

Bhajan

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap