Guru vaani 26 Nov 2019

Guru vaani 26 Nov 2019

Sarv जगह आत्मा ही है, सब nirakar है, akhand है abhed है.

तुम जीव भाव mein aa जाते हैं तभी चोट खाते हैं और ahankar aa जाता है

इसलिए हमको कोई अहंकार भी नहीं करना चाहिए.

सबको एक ही आत्मा देखने से हमारी स्थिति भी बन जाती है.

हर kal mein आत्मा ही सच है. हरएक वस्तु mein आत्मा भर पूरा है.

प्रभु जी हमसे दूर नहीं है, the whole world is full of God.

वो हर जगह oat proat है, हमको dikhaye नहीं पड़ता है.

जगत mein हर वस्तु केवल परमात्मा ही परमात्मा है. सब कुछ Bhagwan ka ही pasara है तुम बीच mein क्यो अपनी akal lagate हो.

💚💝हमारे जीवन mein ग्यान तो बहुत rehta hai lekin दुख का होना भी जरूरी है

क्योकि सुख mein तुम फूल जाते हैं और दुख mein Bhagwan ke सुमिरन mein mashgool हो जाते हैं.

यह तुम्हारा देह अध्यास है और तुम इसी mein फँसे रहते हैं is लिए हमेशा हमको SATSANG ke ghere mein ही रहना चाहिए.

इसके बाहर जो जाएगा वो जगत की मोह माया mein phans जाएगा.

हम लोग हमेशा दूसरे की बुराई ही देखते हैं और दूसरे ke ख्याल mein dube रहते हैं और कुछ बन जाते हैं तभी चोट खाते हैं. 🧡

🌹हमेशा गुरु ke आगे हमको Namrata mein hi रहना चाहिए.

प्रकृति का आनंद लेना चाहिए मैं करने वाला नहीं हूँ, प्रकृति तो dasi है.

लेकिन अभी हम लोग अपनी ही chalate है.

गुरु पर पूर्ण विश्वास रखना चाहिए और हमको गुरु की कृपा पर रहना चाहिए.

गुरु की बात को sar mathe पर रखना चाहिए तभी हमारा उद्धार होगा.

हमको अपना जीवन badalna चाहिए.

Guru की हर बात हमको Maan लेना चाहिए. Jhini माया हमारे अंदर बहुत पड़ी है.उसको जल्दी हटाना होगा.

जैसे Dada ji ke अंदर सबके लिए nischal प्रेम है उसी terah हमको भी सबसे प्रेमकरना चाहिए. 🌹💘

💚💛 Guru से हमारी यही aardass होनी चाहिए ki kripa humesha bani rahe aur सबसे प्यार करते रहे.

गुरु की aagya mein chalna chahiye. सत्संग haal की सेवा भी करना चाहिए.

घर को भी गुरु का घर समझो और सबसे प्यार से Namrata से ही baat करना चाहिए.

गुरु वाणी को धीरज से जीवन mein utRna चाहिए.

Mata Bhagwan ने 14 saal palang पर bitaya और फिर भी कोई शिकायत नहीं किया.
🎂🧡

Mata Bhagwan ki यही करुणा है कि आप खुद बीमार होकर भी खुद हंसते ही रहते the. और सभी प्रेमियों ke dukhon को दूर करने mein लगे रहते the.

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap