Guru vaani 28 April 2019

Guru vaani 28 April 2019

गुरु जी ने बताया कि,,,,,,
🍁क्यों फालतू के मैथमेटिक्स में अटकते हो,,,,मैथेमेटिक्स मतलब माथे में टिक टिक,,दुसरो के गणित में मत जाओ खुद की कॉपी जांचे,,,,,,,।

🍁बिना आशा के बिना किसी वापसी के ख्याल से शुद्ध प्रेम करें सबसे,,,,,,,,।


🍁मनुष्य का प्रेम पिंजरे के पंछी की तरह संकीर्ण है,,,गुरु विशालता में जीना सिखाते है,,,,,,,।


🍁लहरें तो समुंदर की शान है,लहरों से क्या डरना,लहरों को मौजे समझेंगे तो मौज करेंगे,जीवन मे भी जो भी बात आएं उनका आनंद ले और आगे बढ़ते चले,,,,,,,,।

guru ji letter


🍁टू सी अ गॉड इस टू बी अ गॉड,मतलब सर्वत्र भगवान का दर्शन करना ही भगवान होना है,,,,,,,।


🍁भगवान को ज्ञानी भक्त अति प्रिय है,मतलब हर कर्म धर्म और ज्ञान सहित करें,,,,,,,,।


🍁क्यों दुसरो को सुधारने में लगे रहते है,खुद के उद्धार में लग जाएं,,,,,,,।


🍁शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,,।

Guru Ji Ke Bhajans – Click Here

199 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap