vaani3march

Guru vaani 3 march 2019

🌹Kabhi mandir me fal phool nahi chadha payen tto dukhi mat hona jo dusre log phool ,fal chadha rahe hai wo bhi tto prabhu ko hi tto chadh raha hai,,,,jaise ek bachhe ko agar maa khana khila na payen tto dadi ,nani khilayen tto bachhe ka pet tto bharta hai na,,,,,matlab pet bharne se hai,,,,aise hi matlab prabhu ko phool koi bhi chadhaye kya fark padta hai,,,,,,
🌹Ghar wale ya Maya wale prem ya koi vastu dete hai uski wapsi ki aasha rakhte hai,,,lekin Guru wapsi me kuch nahi chahte,,,,sirf dete hi dete hai,,,,,,,
🌹Bhagwan ko hamari vastu nahi chahiye,,wo tto sirf bhav ka bhookha hai,

[youtube_channel random]


🌹Dukh ,,bimari,,,ninda apne sachhe bhakto ko bhagwan ki taraf se mile huye tol,,,,matlab gifts hai,,,,,,
🌹Court se bache,,,,,bataya
C,,, se,,,,cudd,,matlab jooth
R,,,Rupaye,,,,vyarth jate hai,,,,,
T,,,,se Time waste hota hai,,,,,,
🌹Jaise kele ki paat ,paat me paat,,,vaise hi Guru ki har baat me bhi koi baat jarur hoti hai,,,,,,,
🌹Ek baar mitti ke kalash me ganga jal bharkar kisi ne pooja me rakha tab mitti ke kalash ne apni baat batai ki ,jab mai mitti tha,,,shikayat karta rahta tha,ki bhagwan ne mujhe mitti banaya,,,kumhar mujhe raudd raha hai,,,,bhatti me dala,,,lekin aaj jab mere andar gangajal dalkar mujhe pooja me sabse aagey bhagwan ke aagey rakha hai,,,tto mujhe bahut prasanta mil rahi hai,,,,,aise hi Guru ji batate hai ki,,,,agar hamare sath kuch galat ho raha hota hai tto yakin mano bahut kuch achha hone wala hai tabhi,,,,,,
🌹Shukrane Satguru ji ke Hari om,,,,,,,

🌹कभी मंदिर में फल,फूल नही चढ़ा पाएं तो दुखी मत होना,जो दूसरे लोग फल फूल प्रभु को चढ़ा रहे है वो भी तो प्रभु को ही तो चढ़ा रहें है,,,ना,,,जैसे एक बच्चे को उसकी दादी ,नानी खाना खिलाये,माँ ना खिला पाए तो दुखी मत होना,,,बच्चे का पेट तो भर रहा है ना,,, मतलब पेट भरने से है,मतलब प्रभु को फूल कोई भी चढ़ाए क्या फर्क पड़ता है,,,,,,।
🌹घर वाले या माया वाले प्रेम या कोई वस्तु देते है तो हमसे उसकी वापसी की आशा रखते है,लेकिन गुरु वापसी में कुछ नही चाहते,,देते ही देते है,,,,,।
🌹भगवान को हमारी कोई भी वस्तु नही चाहिए,,,, वो तो भाव का भूखा है,,,,,,।
🌹दुख ,बीमारी,निंदा, अपने सच्चे भक्तो को भगवान की तरफ से मिले हुए टोल,मतलब गिफ्ट्स है,,,,,,,।
🌹कोर्ट से बचे,,,बताया,,,
क ,,,से कुड़, मतलब जूठ,,,
र,,,से रुपये,, व्यर्थ जाते है,,,,,
ट,,, से टाइम वेस्ट होता है,,,,,,।
🌹जैसे केले की पात ,पात में पात,,,ऐसे ही गुरु की हर बात बात में बात,,,,,होती है,,,,,।
🌹एक बार एक मिट्टी के कलश में किसी ने गंगा जल भरकर पूजा में रखा तब मिट्टी के कलश ने अपनी बात बताई की,जब मैं सिर्फ मिट्टी था,शिकायत करता था,की भगवान ने मुझे मिट्टी बनाया,कुम्हार मुझे रौद रहा है,,,भट्टी में डाला,,लेकिन आज जब मेरे अंदर गंगाजल डालकर मुझे पूजा में सबसे आगे भगवान के आगे रखा है तो मुझे बहुत प्रसन्ता मिल रही है,,,ऐसे ही गुरु जी बताते है कि अगर हमारे साथ कुछ गलत हो रहा होता है तो यकीन मानो इसके बाद बहुत कुछ अच्छा होने वाला है तभी,,,,,,।
🌹शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,।

divinepramilabhagwan
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap