Guru vaani 7 Oct 2019

Guru vaani 7 Oct 2019

🌼अपने आप को कर्ता मानेंगे तो हर कर्म की सजा भी भोगनी होगी,,,,,अकर्ता जानकर कर्म करेंगे तो सब बातों से बच जाएंगे,,,,,,,,,।

🌼कर्म का मर्म ,मतलब छुरी से पेट डॉ, भी काट ता है और चोर भी काट ता है लेकिन दोनों का मर्म अलग अलग है,,,,,,,,,।

🌼इच्छा और अहंकार के बिना किया हुआ कर्म अकर्म कहलाता है,,,,,,,,,,।

🌼खयालो से खाली हो जाओ ,,,ज्ञानी मानसिक कर्मो से भी छूटा हुआ होता है,,,,,,,,।

🌼ज्ञानी के अंदर 24 घण्टे यही बात चलती है कि मैं कुछ करने वाला नही,,,,,,,,,,,,।

🌼धैर इस बिग डिफरेन्स बिटवीन ” इट,एंड फिड” मतलब खाना और खिलाने में बहुत अंतर होता है,,,संसारी कहता है मै खाता हूं,,,ज्ञानी कहता है में खिलाता हु इस तन को,,,,,,,,।

🌼क्यों मरने से डरते हो,,,मरना तो सिर्फ एक एडरेस चेंज होना है,काल को अगर ले जाना होगा तो डॉ, और रिस्तेदारो के बीच मे से भी ले जाएगा,,,,,,,,,,,।

🌼शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ,,,,,,,,,,,,।

Divine Guru JI Vaani

🌼Apne aap Ko karta manoge tto har karm ki sajja bhi bhogni

hogi,,,,,,,,,akarta jankar karm karenge tto sab baton se bach jayenge,,,,,,,,,,

🌼Karm ka marm,matlab chhuri se pet Dr,bhi kat ta hai,aur chor bhi kat ta

hai lekin dono ke karm ka marm alag, alag hai,,,,,,,,,,,,

🌼Ichha aur ahankaar ke bina Kiya hua karm akarm kahlata hai,,,,,,,,,,,

🌼Khayalo se Khali ho jao,,,,Gyaani manshik karmo se bhi chhuta hua hota

hai,,,,,,,,,,,

🌼Gyaani ke andar 24 ghante yahi baat chalti hai ki mai kuch karne wala

nahi,,,,,,,,

🌼There is a big difference between” Eat” and ” Feed ” matlab khana aur

khilane me bahut antar hota hai,,,,,,,sansari kahta hai mai khata

hu,,,,,Gyaani kahta hai mai khilata hu,,apne tann ko,,,,,,,,,,,

🌼Kyu marne se darte ho,,,,marna tto sirf ek address change hona

hai,,,,,kaal Ko agar le Jana hoga tto dr,aur ristedaaro ke bich me se bhi le

jayega,,,,,,,,,,,,

🌼 Shukrane Satguru ji ke Hari Om

328 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap