Jaisa sang vaisa rang chadhega

Jaisa sang vaisa rang chadhega

गुरु जी ने बताया कि

🌷कितने भी कर्म किये होंगे लेकिन जब ज्ञान अग्नि जलती है तो सारे कर्म जलकर खत्म हो जाते है ।

🌷गुरु कहते है कि हम भगवान तो पहले ही से है,बस ऊपर विसय विकारो की धूल जम गई थी,वो गुरु साफ करके हमे शुद्ध ,पवित्र करते है,ज्ञान से ।

🌷अपने कर्मो का भुगतान हमे ही करना है,कर्म गति बलवान बिन भोगे छुटकारा नही ।

🌷किसी भी बात के लिए प्रभु को प्रार्थना नही करनी है,,,,प्रार्थना क्यों ? कोई भी परेशानी आई भी तो प्रभु के पास से , उन्हें पता है कब खत्म करनी है परेशानी,,,,,,,करनी है तो प्रभु की प्रशंसा करें ।

🌷जिस चीज की कमी है उसकी शिकायत नही, जो मिला है उसका शुकराना करें ।

🌷पीस ऑफ माइंड मतलब मन की शांति ,,,,वो सिर्फ ज्ञान से ही मिल सकती है ।

🌷गॉड फ़ीड वर्ल्ड बिलीव धेट ,,,,,,मतलब ये विस्वास रखे कि सारी सृष्टि को प्रभु खिलाते है ।

🌷एस ध कंपनी सो ध कलर ,,,,,,,मतलब जैसा संग वैसा रंग चढ़ेगा ।

🌷शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ ।

Guru ji ne btaya ki

🌷Kitne bhi karm kiye honge lekin jab Gyaan agni jalti hai tto sare karm jalkar khatm ho jate hai

🌷Guru kahte hai ki hum bhagwan tto pahle se hi hai,bas oopar visay ,vikaaro ki dhul jam gai thi wo Guru saaf karke hume shuddh,pavitr karte hai,Gyaan se

🌷Apne karmo ka bhugtaan hume hi karna hai,,,,karm gati balwan bin bhoge chhutkara nahi

🌷Kisi bhi baat ke liye Prabhu ko Prathna nahi karni hai,,,,Prathna kyu,Koi bhi pareshani aayee bhi tto Prabhu ke paas se,unhe pata hai kub khatm karni hai pareshani,karni hai tto Prabhu ki Prashansha karen

🌷Jis chij ki kami hai uski shikayat nahi,jo mila hai uska shukrana karen

🌷Piece of mind matlab mann ki shanti,,,,,,wo sirf Gyaan se hi mil sakti hai

🌷God feed world believe that,,,,,,matlab ye wiswas rakhen ki saari shristi ko Prabhu khilate hai

🌷As the company so the colour,,,,matlab jaisa sang vaisa rang chadhega,,,,,,,,,,

🌷Shukrane Satguru ji ke Hari om

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap