जीवन

🌹जीवन मे सलाह 1000 लोग देंगे, सहयोग विरला ही देता है

गुरु जी ने बताया कि

🌹जैसे लकड़ी से उत्पन्न आग लकड़ी को भी जला देती है , ऐसे ही मनुष्य से उतपन्न क्रोध मनुष्य को ही खत्म कर देता है,,,,,,,,,,,,,।

🌹जहां रहकर , जहां बैठकर विक्षेपता आएं तो वहां से हट जाना ही समझदारी होती है,,,,,,,,,,,,।

🌹हमारी गाड़ी अगर सड़क पर 40 से आगे है , तो सोचो 60 लोगो की गाड़ी हमसे भी आगे हो सकती है,,,,,,,,,,,,।

🌹जीवन मे कुछ लोग हमसे आगे होंगे तो सब्र करो हम भी कुछ लोगों से आगे है,,,,,,,,,,,,।

🌹अपनी प्रारब्ध में संतुष्ट सदा सुखी होता है,,,,,,,,,,,,,।

🌹जो बहुत ज्यादा ऐंठता है , प्रकृति उसको जरूर फेंट ती है,,,,,,,,,,,,,।

नींद भी नहीं आती है क्योंकि दुनिया भर की चिंता लेकर बैठे हो..
नींद भी नहीं आती है क्योंकि दुनिया भर की चिंता लेकर बैठे हो..

🌹जीवन मे सलाह 1000 लोग देंगे, सहयोग विरला ही देता है,,,,,,,,,,,।

🌹किसी से कुछ भी मत मांगो , ना प्रेम , ना मान,,,, मांगन मरण समान है,,,,,,,,,,,,।

🌹जो भी भगवान के करीब होता है, उसके जीवन मे ” दुख , गरीबी , निंदा प्रशाद के रूप में आती है,,,,,,,,,,,।

🌹शुक्राने सतगुरु जी के , हरि ॐ,,,,,,,,,,,।

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap