तोहफा

सबसे उत्तम तोहफा

गुरु जी ने बताया कि

🎋भगवान उन्ही की मदद करते है जो स्वयंम की मदद करते है ।

🎋हम खुदको मनुष्य समझते है,,,,लेकिन गुरु ने एहसास कराया कि हमारे अंदर परमात्मा का अंश है ।

🎋सबसे उत्तम तोहफा सबको उनकी गलतियों के लिए माफ कर देना और भूल जाना ।

🎋मन की बुरी आदतों को मान मत दो,,,,वरना आदत बढ़ती जाएगी ।

🎋किसी के भी चित्र की नही चरित्र की पूजा होती है,,,,,,,।

🎋अज्ञानियो के साथ रहकर हमारा ज्ञान और पक्का होता है,,,,,,,,,,,।

🎋हमारे में बिल्कुल ताकत नही की हम प्रभु को याद कर सके,,,,,,प्रभु की कृपा से ही प्रभु का नाम लेते है हम,,,,,,,,,,।

🎋फूल कभी नही कहता कि मेरे अंदर खुश्बू है,अपने आप महेसुस होती है,,,ऐसे ही ज्ञानी का जीवन भी मेहकता रहता है,,,,,,,,,।

🎋शुक्राने सतगुरु जी के हरि ॐ ।

Guru ji ne btaya ki

🎋God helps them who help themselves,,,,,matlab bhagwan unhi ki madad karte hai jo khud ki madad karta hai,,,,,,,,,,,,

play_circle_filled
pause_circle_filled
Aap-Kya-Miley
save_alt
volume_down
volume_up
volume_off

🎋Hum khudko manushya samajhte hai,,,,,lekin Guru ne ahsaas karaya ki hamare andar Parmatma ka ansh hai,,,,,,,,,,,,,

🎋Sabse uttam tohfa sabko unki galtiyo ke liye maaf kar dena aur bhul jana,,,,,,,,,,,,,

🎋Mann ki buri aadato ko maan mat do,,,,,,warna aadat badhti jayegi

🎋Kisi ke bhi “Chitr ” ki nahi “Charitr ” ki pooja hoti hai,,,,,,,,,,,

🎋Agyaaniyo ke sath rahkar hamara Gyaan aur pakka hota hai

🎋Hamare me bilkul taquat nahi ki hum Prabhu ko yaad kar sake,,,,,,,Prabhu ki Kripa se hi Prabhu ka naam lete hai hum,,,,,,,,,,,

🎋Phool kabhi nahi kahta ki mere andar khusbu hai,apne aap mahesus hoti hai aise hi Gyaani ka jeevan bhi mahekta rahta hai,,,,,,,,,,

🎋Shukrane Satguru ji ke Hari om

220 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap